15 सीटों पर अड़ी आजसू

कहा- हम पर कार्यकर्ताओं का दबाव

विधानसभा चुनाव में आजसू ने 15 सीटों पर दावा ठोका है । सुदेश महतो ने कहा है कि जरुरत पड़ी तो भाजपा के बड़े नेताओं से भी मुलाकात करेंगे। ये पूछने पर कि क्या वो एनडीए से अलग रास्ता अख्तियार कर सकते हैं ? इसपर सुदेश महतो ने कहा कि वे पूरी मजबूती के साथ एनडीए में हैं लेकिन हम पर कार्यकर्ताओं का दबाव है। भाजपा को बी हमारी स्थिति समझनी होगी।

भाजपा के केन्द्रीय नेतृत्व से बात करेंगे
सुदेश महतो ने बार-बार कहा कि वे भाजपा के केन्द्रीय नेतृत्व से बात करने के बाद ही कोई निर्णय लेंगे । उन्होने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान भी इसी तरह की बातें की जा रही थी लेकिन भाजपा के बड़े नेताओं ने हमारे दावों पर अपनी मुहर लगाई और हमने गिरिडीह सीट पर जीत हासिल की ।

जहां जीत सकते हैं वही सीट मांग रहे
आजसू का दावा है कि वे 15 सीटें काफी सोच-समझकर ही मांग रहे हैं। ये वो सीटे हैं जो हम निकाल सकते हैं। दोस्ताना संघर्ष की बात को उन्होने सिरे से कारिज करते हुए कहा कि राजनीति में या तो आप इस तरफ खड़े हैं या उस तरफ . यहां दोस्ताना संघर्ष जैसा कुछ नहीं है।

पोस्ट पोल एलाएंस पर भी विचार
अगर भाजपा के साथ सीटों पर सहमति नहीं बनीं तो क्या वे पोस्ट पोल एलाएंस पर विचार करेंगे। इस सवाल पर आजसू सुप्रीमों ने कहा कि ये सारी बातें हाइपोथेटिकल हैं. इस पर अभी वे कुछ नहीं कहना चाहते। आजसू आज भी एनडीए की सहयोगी है और पार्टी की कोशिश है की सारे मुद्दे आपसी बातचीत से सुलझ जाएं।

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *