मॉक पोल क्या है… जानें इसकी प्रक्रिया!

मॉक पोल क्या होता है –

इलेक्शन का ही एक पार्ट माना जाता है मॉक पोल, जिसके दौरान नोटा सहित मतदान में खड़े हर प्रत्याशी के बटन को रैंडम तरीके से कम से कम तीन बार दबाना होता है। प्रत्याशियों की संख्या कम हो या फिर ज्यादा लेकिन हर पोल में कम से कम पचास मॉक पोल डालना अनिवार्य माना जाता हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उम्मीदवार का बटन पोलिंग एजेंट ही दबाता है और अगर पोलिंग एजेंट मौजूद ना हो तो मतदान अधिकारी बटन को दबाता है। वहीं, अगर बटन ना दबे या फिर बीप की आवाज़ ना आए तो फिर ईवीएम बदल दी जाती है।

मॉक पोल के बाद की क्या है प्रक्रिया –

गौरतलब है कि मॉक पोल हो जाने के बाद, संबंधित पोलिंग स्टेशन पर पीठासीन अधिकारी दो प्रतियों में पोल का प्रमाण पत्र तैयार किया जाता है और उस पर मौजूद पोलिंग एजेंटों के हस्ताक्षर भी कराएं जाते हैं। यही नहीं, अगर इस दौरान माइक्रो आब्जर्वर की नियुक्ति होती है तो उसके भी हस्ताक्षर लिए जाना अनिवार्य माना जाता है। इनमें सेक्टर ऑफिसर हर पोलिंग स्टेशन से मॉक पोल प्रमाण पत्र की जानकारियां भी लेते हैं। हालांकि यह पूरी प्रक्रिया रिटर्निंग अफसर की निगरानी में ही की जाती है।

बिना वोटर आईकार्ड के भी आप दे सकते हैं अपना मतदान –

जिन लोगों के पास वोटर आईकार्ड नहीं है या किसी कारनवस वोटर आईकार्ड अब तक नहीं बन पाया है तो खुश हो जाइए क्योंकि चुनाव आयोग ने मतदान के लिए वोटर आईकार्ड के अलावा दूसरे पहचान पत्रों के इस्तेमाल की मंजूरी भी दे दी हैं। इस खास फैसले के बाद वैसे मतदाता भी वोट डाल सकेंगे, जिनके पास वोटर आईकार्ड नहीं हैं।

याद रखें कि वोटर आईकार्ड नहीं होने पर मतदाता अपने पहचान पत्र के तौर पर पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, राज्य/केंद्र सरकार के कर्मचारियों के आईकार्ड, पब्लिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी आईकार्ड, बैंकों/डाकघरों के पासबुक, पैन कार्ड, आधार कार्ड, राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर(एनपीआर), मनरेगा जॉब कार्ड, हेल्थ कार्ड ,बीमा स्मार्ट कार्ड, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज और निर्वाचन आयोग द्वारा जारी फोटो मतदाता पर्ची के आधार पर भी वोट डाल सकने में सक्षम माने जाएंगे।

याद रखें कि हर एक वोट का अपना खास महत्व होता है… इसलिए वोट देने के नाम पर कोई बहाना ना करें क्योंकि ऐसा कर के आप किसी और को नहीं बल्कि खुद को व अपने देश को ही धोखा देंगे।

अब यह आप पर निर्भर करता है कि आप धोखा किसको देना चाहते हैं???

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

Lok Sabha Elections 2019

Mon Mar 11 , 2019
Phase 1: Voting on April 11Phase 2: Voting on April 18Phase 3: Voting on April 23Phase 4: Voting on April 29Phase 5: Voting on May 6Phase 6: Voting on May 12Phase 7: Voting on May 19 Date of counting: May 23 No. of seats per phase: Phase 1: 91 seats in  20 StatesPhase 2: 97 seats in 13 StatesPhase 3: 115 seats in 14 StatesPhase 4: 71 seats in 9 StatesPhase 5: 51 seats  in 7 StatesPhase 6: 59  seats in 7 StatesPhase 7: 59  seats in 8 States Phase-wise poll details: Phase 1 (91 constituencies in 20 States):Andhra […]

Agenda

August 2020
M T W T F S S
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31  
RANCHI WEATHER