माता-पिता को किया बेघर तो जाना पड़ सकता है जेल!

शराबबंदी, दहेजबंदी जैसी सामाजिक क्रूरता दूर करने के प्रयास के बाद नीतीश सरकार ने एक और बड़ा फैसला लिया है – और यह बड़ा फैसला है कि राज्य में बच्चों के लिए माता-पिता की सेवा करना अनिवार्य होगा।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हाल ही में हुए बिहार कैबिनेट की बैठक में कई अहम निर्णयों पर मुहर लगाया गया है और 17 एजेंडों को स्वीकृति प्रदान की गई है। यह कहना गलत नहीं होगा कि नीतीश सरकार ने शराबबंदी और दहेजबंदी के बाद यह सामाजिक कुरीति दूर करने के लिए एक और बड़ा प्रयास जो किया है वह वाकई काबीले तारीफ है।

ध्यान रहें कि माता-पिता की शिकायत पर सेवा नहीं करने वाले बच्चों को जेल भी जाना पड़ सकता है। साथ ही बिहार कैबिनेट ने CM वृद्धा पेंशन योजना को अब राइट टू सर्विस एक्ट में शामिल करने का भी फैसला ले लिया गया है।

Priya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

पांच चरणों में होगा आगामी झारखंड विधानसभा चुनाव, आचार संहिता लागू

Fri Nov 1 , 2019
30 नवंबर से पांच चरणों में होने वाले 81 निर्वाचन क्षेत्रों के लिए झारखंड विधान सभा चुनाव की मतगणना 23 दिसंबर को होगी। चुनाव का पहला चरण 30 नवम्बर, दूसरा 7 दिसम्बर, तीसरा 12 दिसम्बर, चौथा 16 दिसम्बर और पांचवा और अंतिम चरण 20 दिसम्बर को तय किया गया है। […]

Agenda

August 2020
M T W T F S S
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31  
RANCHI WEATHER